US को आंखें दिखाने वाले महफूज नहीं रह सकते: फेयरवेल स्पीच में बोले ओबामा

बराक ओबामा ने बुधवार को फेयरवेल स्पीच दी। स्पीच 51 तक चली। वे 8 साल अमेरिका के प्रेसिडेंट रहे। ओबामा ने लोगों का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा- “मैंने रोज आपसे सीखा। आप लोगों ने ही मुझे एक अच्छा इंसान और एक बेहतर प्रेसिडेंट बनाया। अमेरिका को आंखें दिखाने वाला सुरक्षित नहीं रह सकता।” स्पीच के दौरान एक बार वे भावुक भी हुए। कहा, “मिशेल मेरी पत्नी और बेटियों की मां ही नहीं, मेरी सबसे अच्छी दोस्त भी हैं।” बता दें कि ओबामा का कार्यकाल 20 जनवरी को खत्म हो रहा है। इसी दिन डोनाल्ड ट्रम्प नए प्रेसिडेंट के रूप में शपथ लेंगे। ओबामा की स्पीच की 8 बड़ी बातें…
 obama_farewell_1_14841152
 
 अमेरिका का दुश्मन महफूज नहीं रहेगा
 
ओबामा ने कहा, “ISIS खत्म होगा। अमेरिका को आंख दिखाने वाले कतई महफूज नहीं रहेंगे।”
 “ओसामा बिन लादेन समेत हजारों टेररिस्ट्स को हमने मार गिराया है।”
 “बीते 8 साल में किसी भी आतंकी संगठन ने न तो अमेरिका पर हमले की प्लानिंग की और न ही हमला किया।”
 
 अमेरिका में मुस्लिमों को कोई खतरा नहीं
 
 ओबामा बोले, “देश में मुस्लिमों को कोई खतरा नहीं है।”
“अमेरिकियों और मुसलमानों में कोई फर्क नहीं किया जाएगा।”
 
 बच्चों को फैसिलिटीज देनी होंगी
 
 “इमिग्रेंट्स के बच्चों के लिए इनवेस्ट करना चाहिए, क्योंकि वे भी अमेरिका की तरक्की में भागीदारी करेंगे।”
 “लंबे वक्त से यहां रह रहे इमिग्रेंट्स जानते हैं कि उनके रिलेशन अमेरिकी लोगों से काफी बेहतर हुए हैं।”
 
डेमोक्रेसी की ताकत बरकरार
 
 ओबामा ने कहा, “आने वाले 10 दिन में देश एक बार फिर हमारी डेमोक्रेसी की ताकत देखेगा कि कैसे एक प्रेसिडेंट-इलेक्ट सत्ता संभालता है।”
 “मैं यकीन दिलाता हूं कि मेरा एडमिनिस्ट्रेशन ट्रम्प को शांति और बेहतर तरीके से सत्ता ट्रांसफर करेगा।”- “डेमोक्रेसी के लिए यूनिटी बनाकर रखनी होती है। यही हमें ऊपर ले जाती है। हम गिरें या उठें, हमें साथ होना चाहिए।”
 
 बांटने वाली ताकतों से बचना होगा
 
 “अमेरिकी लोगों में बहुत ताकत है। लेकिन कभी-कभी बांटने वाली ताकतें भी हावी होती हैं।”
 “बोस्टन और ओरलैंडो में जो घटनाएं हुईं, वो बताती हैं कि रैडिकलाइजेशन कितना खतरनाक है। एजेंसियां इसकी जांच कर रही हैं।”
 “जो लोग देश को बांटना चाहते हैं, उनसे डेमोक्रेसी को खतरा है।”
 
 बदलाव के लिए हर शख्स का जुड़ना जरूरी
 मैंने सीखा है कि बदलाव तभी आता है, जब हरेक और सामान्य शख्स इनवॉल्व होता है।”
“मैंने रोज आपसे सीखा। आप लोगों ने मुझे एक अच्छा इंसान और एक बेहतर प्रेसिडेंट बनाया।”
 
 अब प्रेसिडेंट रहने की गुंजाइश नहीं
 
लोगों ने ओबामा से कहा, “आपको 4 चार साल और रहना चाहिए।”
 उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा, “मैं ये नहीं कर सकता।”
बता दें कि अमेरिकी संविधान में कोई शख्स सिर्फ दो बार ही प्रेसिडेंट बन सकता है। प्रेसिडेंट का टेन्योर 4 साल का होता है।
 
 इमोशनल होकर बोले- मिशेल सबसे अच्छी दोस्त
 
 “मिशेल और मैं 25 सालों से साथ हैं। वो महज मेरी पत्नी और बच्चों की मां नहीं हैं, वे मेरी सबसे अच्छी दोस्त हैं।”
 ओबामा के ऐसा कहते ही मिशेल और दोनों बेटियां साशा-मेलिया भी भावुक हो गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *