कानपुर में चेकिंग के दौरान पुलिस ने पकड़े 26.70 करोड़ रुपये

कानपुर के फीलखाना और हरबंशमोहाल में पुलिस चेकिंग के दौरान तीन गाड़ियों से 26.70 करोड़ रुपए पकड़े। यह रकम तीन बैंकों की थी। दो का कैश आयकर विभाग ने जांच के बाद छोड़ दिया, वहीं एक बैंक के 20 करोड़ रुपए रोक लिए। कल शाम फूलबाग चौकी के पास पुलिस ने एक इनोवा की तलाशी ली तो बॉक्स में 5 करोड़ रुपए मिले। गाड़ी में बैठे इलाहाबाद बैंक के अफसर भगत सिंह ने बताया कि करंसी चेस्ट से रुपए हमीरपुर जा रहे हैं। पुलिस इनोवा को फीलखाना थाने ले गई। सूचना पर पहुंची आयकर विभाग की टीम को बैंक अफसर ने कागजात भी दिखाए। वहीं बैंक के एजीएम ने लिखित अंडरटेकिंग दी। तब इनोवा छोड़ दी गई।rs-2000-currency-note

वहीं हरबंशमोहाल में एक कार से एसबीआई एटीएम के लिए भेजे जा रहे 1.70 करोड़ रुपए जांच के बाद छोड़ दिए गए। उधर, नरौना चौराहे पर बोलेरो से हमीरपुर के इलाहाबाद क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक जा रहे 5 करोड़ रुपए पकड़े गए। गाड़ी में मौजूद बैंक अफसर अरुण मिश्र ने बताया कि आरबीआई से 15 करोड़ पहले ही बांदा भेजे गए, शेष वह लेकर जा रहे थे। फिर भी आयकर विभाग ने उन्हें रोक लिया और बांदा भेजी गई गाड़ी भी थाने बुला ली। बाद में आयकर विभाग के डिप्टी कमिश्नर (जांच) सौरभ आनंद ने बताया कि हमीरपुर व बांदा जा रहीं गाड़ियों को जांच के बाद छोड़ दिया गया।

दक्षिण पुलिस ने पकड़ी 11.45 लाख की रकम
इसके अलावा जूही पुलिस ने रात में चेकिंग के दौरान एक बोलेरो से 10.29 लाख रुपये बरामद किए। रुपए शराब सिंडीकेट के बताए जा रहे हैं। थाने में रुपए सीज कर आयकर व स्टेटिक मजिस्ट्रेट को सूचना दे दी है। जूही इंस्पेक्टर रमेश चन्द्र मिश्र पुलिस टीम के साथ बारादेवी चौराहे पर चेकिंग कर रहे थे। पुलिस ने कई गाड़ियों को रोक कर तलाशी ली। इसी बीच उन्हें नौबस्ता की ओर बोलेरो आती दिखाई दी। गाड़ी को रोकने की कोशिश की तो चालक भागने लगा। पुलिस ने दौड़ाकर उसे पकड़ लिया। गाड़ी चेक की गई तो उसमें रुपयों से भरा बैग मिला। गिनती कराई तो 10.29 लाख रुपए निकले।

गोविंदनगर के शास्त्री चौक चौराहे के पास एक कार से चेकिंग के दौरान 1.16 लाख रुपए मिले। कार में मौजूद अशोक नगर निवासी भंवर सिंह ने बताया, वह एक कंपनी में कलेक्शन एजेंट हैं। पुलिस ने रुपए का पूरा हिसाब मांगा तो वह कोई कागज नहीं दिखा सके इसके बाद पुलिस ने रकम जब्त कर ली है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *