साइरस मिस्त्री को निदेशक पद से हटाएगी टाटा संस

साइरस मिस्त्री को टाटा समूह के चेयरमैन पद से हटाने के बाद ग्रुप की होल्डिंग कंपनी टाटा संस के निदेशक पद से भी उन्हें हटाने के लिए कंपनी ने 6 फरवरी को असाधारण आम बैठक (ईजीएम) बुलाई है।44217-zsryjozylr-1483699701

टाटा संस ने 24 अक्टूबर को मिस्त्री को अचानक चेयरमैन पद से हटा दिया था और टाटा मोटर्स व टीसीएस जैसी कंपनियों से भी उनकी निकासी चाही थी। इसके बाद मिस्त्री ने समूह की 6 कंपनियों के निदेशक मंडल से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन वे इस मामले में टाटा संस और ग्रुप के अंतरिम चेयरमैन रतन टाटा को राष्ट्रीय कंपनी कानून न्यायाधिकरण ले गए।

बहरहाल मिस्त्री टाटा संस के चेयरमैन तो नहीं रहे, लेकिन वे अब भी इस कंपनी के निदेशक हैं। रवैया गलतः टाटा संसईजीएम के लिए जारी एक नोट में टाटा संस ने कहा, “मिस्त्री को हटाए जाने के फौरन बाद बाद उन्होंने कंपनी पर कुछ निराधार आरोप लगाए हैं। इससे न केवल टाटा संस और इसके निदेशकों पर आक्षेप लगे, बल्कि पूरे टाटा समूह की साख पर बट्टा लगा है। गोपनीय दस्तावेजों समेत कई आंतरिक संचार पत्र सार्वजनिक किए गए। मिस्त्री के आचरण से टाटा ग्रुप और इसके शेयरधारकों व कर्मचारियों को नुकसान पहुंचा है।”

पद पर रहना उचित नहींनोट में कहा गया है कि मिस्त्री के गैर-जिम्मेदाराना रवैए की वजह से टाटा समूह की कंपनियों की बाजार स्थिति कमजोर हुई है। इससे टाटा संस को क्षति पहुंची और परोक्ष तौर पर शेयरधारकों का भी नुकसान हुआ है। नोटिस में कहा गया है कि मिस्त्री का टाटा संस के निदेशक पद पर बने रहना अब किसी भी हालत में उचित नहीं है, लिहाजा उन्हें इस पद से हटाया जाना चाहिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *