सपा सुप्रीमो ने की आखिरी कोशिश की बात, हो सकता है गठबंधन का ऐलान

सपा में अखिलेश गुट का दावा है कि अब अखिलेश ही राष्ट्रीय अध्यक्ष रहेंगे. अखिलेश समर्थकों के मुताबिक पार्टी राष्ट्रीय अधिवेशन के जरिए अखिलेश यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया है. ऐसे में पार्टी के 90 फीसदी लोगों ने उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना है अब वह इस जिम्मेदारी से पीछे नहीं हट सकते |mulayam-akhilesh-759

 

समाजवादी पार्टी में आंतरिक कलह के बाद शनिवार को सुलह की आखिरी कोशिश होगी. पार्टी में जारी घमासान के बाद लगातार बैठकों और मुलाकातों का दौर जारी है. ऐसे में यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री आजम खान आज एक बार फिर मुलायम सिंह यादव से मुलाकात कर सुलह की कोशिश करेंगे. सूत्रों के मुताबिक अगर अखिलेश-मुलायम के बीच किसी समझौते पर बात बनी तो मुलायम सिंह याद प्रेस कॉंन्फ्रेंस कर कोई बड़ा ऐलान भी कर सकते हैं |

अखिलेश यादव चुनाव में उतरने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. सूत्रों की माने तो अखिलेश ने पार्टी का घोषणापत्र तैयार कर लिया है. अगली 10 जनवरी के बाद कभी भी वह अपना घोषणापत्र जारी कर सकते है. साथ ही समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन लगभग तय माना जा रहा है. 10 जनवरी को अखिलेश यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की मुलाकात हो सकती है. इस मुलाकात में गठबंधन पर आखिरी मुहर लग सकती है और सीटों के बंटवारे पर भी समझौता हो सकता है |

अमर सिंह ने शुक्रवार को जो बयान दिया था उस पर भी अखिलेश गुट ने अमर सिंह पर निशाना साधा है. समर्थकों का कहना है कि परिवार के निजी रिश्तों का हवाला देकर अखिलेश यादव को इमोशनल ब्लैक मेल किया जा रहा है. अमर सिंह ने शुक्रवार को अपने बयान में कहा था कि अखिलेश का पालन-पोषण चाचा शिवापाल के घर में हुआ है और वही उनके ज्यादा करीब है. साथ ही अमर सिंह ने मुलायम सिंह पर कहा कि इस पूरे विवाद में नेता जी बिल्कुल अकेले पड़ गए हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *