चेन्नई टेस्ट में अनोखा इतिहास रचने उतरेगी टीम इंडिया

टीम इंडिया जब शुक्रवार से इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच के लिए मैदान में उतरेगी तो उसकी निगाहें अनोखा इतिहास रचने पर लगी रहेंगी। भारत इस मैच को जीतकर सीरीज पर 4-0 से कब्जा जमाना चाहेगा, यह ऐसी उपलब्धि होगी जो वो इंग्लैंड के खिलाफ आज तक हासिल नहीं कर पाया है।indian_team_15_12_2016

पांच मैचों की सीरीज में टीम इंडिया इस वक्त 3-0 से आगे हैं। टीमों के प्रदर्शन और खिलाडि़यों के वर्तमान फॉर्म को देखते हुए भारत का अंतिम टेस्ट मैच जीतना भी लगभग तय दिख रहा है। भारतीय टीम कभी भी किसी टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड के खिलाफ चार टेस्ट मैच जीत नहीं पाई है। यदि ऐसा हो गया तो यह टीम इंडिया और कप्तान विराट कोहली के नाम अनोखी उपलब्धि दर्ज हो जाएगी। दूसरी तरफ एलिस्टेयर कुक की इंग्लैंड टीम इस शर्मनाक स्थिति से बचने के लिए चेन्नई टेस्ट में पूरी ताकत लगाएगी।

अजहर के नेतृत्व में 3-0 से जीता था भारत : इससे पहले भारत का टेस्ट क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1992-93 की होम सीरीज में रहा था। उस वक्त भारत ने तीन मैचों की सीरीज में इंग्लैंड का 3-0 से सफाया किया था।

दूसरी तरफ इंग्लैंड इससे पहले चार और पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में भी भारत का सफाया कर चुका है। इंग्लैंड ने 1959 में पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत का 5-0 से सफाया किया था। इंग्लैंड 2011 में अपने घर में भारत का चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 4-0 से सफाया कर चुका है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *