‘रसोई गैस की किल्लत के कारण पाकिस्तान में बढ़ रहे तलाक’

मियां-बीवी के बीच तलाक के क्या-क्या कारण हो सकते हैं? माजरा पाकिस्तान का हो तो कारण कुछ वैसा भी हो सकता है, जैसा आपने आज तक कहीं नहीं पढ़ा-सुना होगा। पाकिस्तान की सत्ताpak-talaq-lpg-gas_01_12_2016

रूढ़ मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) की सांसद ताहिरा औरंगजेब के मुताबिक, मुल्क में रसोई गैस की किल्लत है और इस कारण तलाक के मामले बढ़ रहे हैं।

बकौल ताहिरा, पाकिस्तान के शहरों की गैस पाईपलाइनों में प्रेशर कम आता है। इस कारण महिलाएं समय पर खाना नहीं पका पाती हैं और शौहर उन्हें तलाक दे देते हैं। रसोई गैस की इस कमी का मुद्दा पाकिस्तान की संसद में छाया है। खासतौर पर महिला सांसद इसमें बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं।

डॉन न्यूज के मुताबिक, संसद में इस मुद्दे पर बहस की शुरुआत जमियत-उलेमा-इस्लाम-फजल की नेता नईमा किश्वर खान ने की। उन्होंने कहा, गैस की किल्लत से लोगों की रसोई में समय पर खाना नहीं बन पा रहा है। मियां-बीवी में झगड़े हो रहे हैं और परिवार बर्बाद हो रहे हैं। सरकार को यह समस्या जल्द दूर करनी चाहिए।

वही ताहिरा ने यह भी कहा कि किचन में रसोई गैस का स्टोव धीमे जलने से बीवियां, बच्चों और शौहर को वक्त पर खाना नहीं दे पा रही हैं। शौहर काम से लौटते हैं तो खाना नहीं मिलने पर बीवियों से तू-तू, मैं-मैं करते हैं। इसका बुरा असर बच्चों पर भी पड़ रहा है।

बहस के बाद पेट्रोलियम और नेचुरल रिसोर्स मिनिस्टर शाहिद खाकन अब्बासी ने अपने जवाब में कहा कि सरकार लोगों की दिक्कतों से वाकिफ है और इसे हल करने की कोशिश में लगी है। उनके मुताबिक, हम ईरान-पाकिस्तान पाइपलाइन पर काम कर रहे हैं। लेकिन यह तब तक मुमकिन नहीं है, जब तक इंटरनेशनल कम्युनिटी की इजाजत नहीं मिल जाती है। हमने कई राज्यों में गैस प्रोडक्शन में इजाफा किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *