मोदी सरकार ने नाई के खाते में डलवाए 100 करोड़, लोगों में हड़कंप मचा

img_20161211123728लखीमपुर खीरी के एक नाई के लिए रविवार का दिन बेहद यादगार बन गया। बाल काटकर किसी तरह से अपने परिवार का पेट पालने वाला दिलशाद कल सौ करोड़ रुपए का खाता धारक बन गया।

कल उसके मोबाइल पर खाता में 99.99 करोड़ रुपया जमा होने का मैसेज मिला। इसके बाद से दिलशाद बेहद परेशान है। लखीमपुर खीरी के सुंदरवल में हेयर कटिंग सैलून चलाने वाल दिलशाद के मोबाइल पर 99 करोड़, 99 लाख रुपए की रकम खाते में आने का मैसेज आ गया।
मैसेज मिलने के बाद से बेहद चकित दिलशाद सबको बता रहा है कि मोदी सरकार ने वादा पूरा कर दिया है। सरकार ने उसके खाते में पैसा डाल दिया है। बैंक बन्द होने के कारण अब परसों ही मैसेज की तस्वीर साफ होगी, लेकिन करोड़पति बनने के बाद भी दिलशाद बेहद तनाव में है।
दिलशाद इस बीच अपना धंधा भी ठीक से नहीं चला पा रहे। उधर बैंक मैनेजर ने इतनी बड़ी रकम खाते में भेजे जाने की बात फर्जी करार दी। उनका कहना है कि यह मैसेज गलती से चला गया होगा। लखीमपुर भीरा राजमार्ग के किनारे बसे सुन्दरवल कस्बे के परसों रात दिलशाद मेहंदी अपने बिस्तर पर आराम कर रहे थे। अगले ही पल उनके मोबाइल पर एक ऐसा मैसेज आया, जिसे देख कर उनकी आंखें खुली की खुली रह गयीं और नींद गायब हो गयी।
यह मैसेज स्टेट बैंक की तरफ से आया था, जिसमें लिखा था कि 99 करोड़ 99 लाख 99 हजार 999 रूपये उनके खाते में क्रेडिट किए गए है। इस मैसेज को पढऩे के बाद से दिलशाद बेहद हैरान है। सुबह होते ही दिलशाद ने सबसे पहले एटीएम से अपना बेलेंस चेक किया तो एक पर्ची निकली, जिसमें बताया गया कि उनके खाते में 99 करोड़ 99 लाख 99 हजार रुपए हैं। 
अब दिलशाद और हैरान रह गए। कल सभी बैंक बंद थे। इसी कारण अब परसों तक दिलशाद को इस मैसेज की तस्वीर साफ होने का इंतजार करना होगा। दिलशाद इस तनाव में कल धंधा भी ठीक से नहीं कर पा रहे हैं। कोई उनको करोड़ पति कह रहा है तो कोई ईडी का डर दिखा रहा है।
बैंक मैनेजर बनारसी लाल ने बताया कि गलत मैसेज है। जब भी ग्राहक का नया खाता खोला जाता है तब बैंक की तरफ से ग्राहक के निवास का पता का वेरिफकेशन करने के लिए डाक से धन्यवाद पत्र भेजा जाता है और जब पत्र ग्राहक को डिलिवर्ड नहीं होता है तो ऐसी दशा में ग्राहक के खाते को असीमित राशि के लिए होल्ड कर दिया जाता है, तब ऐसे मैसेज ग्राहकों के नंबर पर आते है। दिलशाद के मामले का सच परसों ही पता हो सकेगा, जब तीन दिन की छुट्टी के बाद बैंक खुलेंगे।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *