कुत्तों के झुंड ने मासूम को नोच-नोच कर मार डाला, इससे पहने 7 बन चुके हैं शिकार

killer-dogs_1481089646उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कुत्तों के झुंड ने भीकनपुर कुलबाड़ा इलाके में आतंक फैलाया हुआ है। मंगलवार को कुत्तों के झुंड ने पांच साल के मासूम पर हमला किया और उसकी जान ले ली। इस बीच वहां मौजूद मृतक बच्चे की बहन समेत तीन बच्चे किसी तरह अपनी जान बचाकर भाग निकले, लेकिन मासूम अपने आप को नहीं बचा पाया। सूत्रों के अनुसार कुत्तों के हमले में आठ बच्चों की जान जा चुकी है।
मुरादाबाद-अलीगढ़ एनएच-93 से सटे ग्राम भीकनपुर कुलबाडा निवासी भट्ठा मजदूर इब्ले हसन का पांच वर्षीय बेटा अबुसेमा अपनी बड़ी बहन अरसुमा, अबुतलाह और अलिफसा के साथ मंगलवार की सुबह करीब नौ बजे गांव के पास खुले मैदान में खेल रहा था।
 बच्चे के माता-पिता के मुताबिक बच्चा पहली बार घर से बाहर खेलने के लिए निकला था। इस दौरान आठ-दस खूंखार कुत्तों ने हमला बोल दिया। बच्चे के पिता एक भट्टा मजदूर हैं और उनके तीन बच्चों में पाच साल मासूम अबुसेमा सबसे छोटा था। घटना के दौरान तीन बच्चे तो गांव की आबादी की ओर से भाग निकले लेकिन अबुसेमा को कुत्तों ने घेर कर गिरा दिया और नोचना शुरू कर दिया।

 अबुसेमा के गर्दन, पीठ, जांघ और पैरों से मांस को कुत्तों ने नोच लिया। जब ग्रामीण लाठियां लेकर पहुंचे तो कुत्तों का झुंड तेजी से दौड़ कर जंगल की ओर से भाग गया। वहीं कुत्तों का शिकार बना अबुसेमा ने कुछ देर में दम तोड़ दिया। हालांकि बच्चे को इलाज के लिए कुंदरकी पीएचसी भी ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। खूंखार कुत्तों के मासूम बालक की जान लेने की घटना से ग्रामीणों में हड़कंप मच गया और मौके पर भीड़ जमा हो गई।
 ग्रामीणों ने बताया कि ये खूंखार कुत्ते जंगल से बाहर आते हैं और खेल रहे बच्चों को अपना शिकार बना लेते हैं
-13 जनवरी को ग्राम चित्तूपुर में सात साल की सोबिया
-17 जनवरी को मोहम्मद जमापुर में 9 साल के जुबैर
-30 जुलाई को ग्राम सीलपुर में 9 साल का रवि
-22 अक्टूबर को शेखपुर खास में दस साल की गुड़िया
-23 अक्टूबर को काजीपुरा में 10 साल की सोफिया
-03 दिसंबर को ग्राम खजरा में 13 साल के नितिन
-05 दिसंबर को ग्राम चित्तूपुर में दस साल की रहनुमा
-06 दिसंबर को भीकनपुर में पांच साल की अबुसेमा

हैरान करने वाली बात है कि ये शातिर कुत्ते बच्चों को घेरते हैं और फिर उनके गर्दन पर वार करके मार देते हैं। फिर ये कुत्ते  बच्चों को नोचने लगते हैं। बच्चों के साथ होने वाली इन वारदातों पर लोगों में गुस्सा देखा जा रहा है और वे प्रशासन से सख्त कदम उठाने की मांग कर रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *